बालिका शिक्षा फाउंडेशन, राजस्थान (गार्गी पुरस्कार)



बालिका प्रोत्साहन,  गार्गी पुरस्कार (प्रथम किस्त सत्र 2020-21), गार्गी पुरस्कार (द्वितीय किस्त सत्र 2019-20) में आवेदन करने की अंतिम दिनांक 30-06-2022 है|


बालिका शिक्षा फाउंडेशन ने गार्गी पुरस्कार की पहली किस्त तथा बालिका प्रोत्साहन के ऑनलाइन आवेदन भी शाला दर्पण पोर्टल पर शुरू कर दिए हैं। इनके आवेदन की अंतिम तिथि 30 जून रखी गई है। सत्र 2020-21 में 10वीं और 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने वाली बालिकाओं के लिए न्यूनतम पात्रता 90 प्रतिशत या इससे अधिक अंक निर्धारित किए गए हैं। जबकि 10वीं एवं प्रवेशिका परीक्षा-2020 में 75 प्रतिशत एवं इससे अधिक अंक प्राप्त करने वाली बालिकाओं के लिए गार्गी पुरस्कार की दूसरी किस्त मिलेगी, जिसके लिए भी ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि में 5वीं बार बढ़ोतरी की गई है। इसके चलते वंचित बालिकाएं अब 30 जून तक शाला दर्पण पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगी। इससे पहले ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 31 मई निर्धारित थी, लेकिन तकनीकी खामियों के चलते शतप्रतिशत बालिकाओं के आवेदन निर्धारित तिथि में नहीं हो पाए थे। गौरतलब है कि गार्गी पुरस्कार के लिए सत्र 2019-20 में कक्षा-10 में उत्तीर्ण छात्राएं वर्तमान में अध्ययनरत विद्यालय या स्वयं के स्तर से पोर्टल पर आवेदन कर सकती हैं।

गार्गी फाउण्डेशन की स्थापना

बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से बालिका शिक्षा फाउण्डेशन की स्थापना 30 मार्च 1995 में की गई। बालिका शिक्षा फाउण्डेशन सोसायटी एक्ट के तहत पंजीकृत संस्था है, जिसकी शाषी परिषद् के अध्यक्ष माननीय मुख्यमंत्री एवं निष्पादक परिषद् के सभापति मुख्य सचिव महोदय है।

फाउण्डेशन की स्थापना के समय राज्य सरकार के द्वारा कोरपस फण्ड के रूप में 1.00 करोड़ रुपये की राशि उपलब्ध करवाई गई। बालिका शिक्षा फाउण्डेशन में निजी शिक्षण संस्थाओं की मान्यता/क्रमोन्नति/स्थान परिर्वतन आदि के लिए आरक्षित कोष की राशि जमा करवाई जाती है। वर्तमान में कोरपस फण्ड एवं आरक्षित कोष की कुल राशि 204.00 करोड रूपये बालिका शिक्षा फाउण्डेशन के पी.डी खाते में जमा है। उक्त जमा राशि से प्रतिवर्ष लगभग 15 करोड़ रूपये ब्याज अर्जित होता है। उक्त अर्जित ब्याज से निम्नयोजनाओं का संचालन किया जाता है।

पढ़ाई बीच में छोड़ने वाली बेटियों को नहीं मिलेगी राशि

बालिका शिक्षा फाउंडेशन जयपुर की ओर से जारी निर्देशों के अनुसार गार्गी पुरस्कार की पहली किस्त तथा दूसरी किस्त के लिए 10वीं के अंकों की प्रतिशत पात्रता के साथ-साथ बालिकाओं को क्रमश: 11वीं तथा 12वीं कक्षा में नियमित रूप से अध्ययनरत होना जरूरी है। पढ़ाई बीच में छोड़ देने वाली बालिकाएं इस पुरस्कार राशि के लिए पात्र नहीं होंगी।

गार्गी पुरस्कार योजना का उद्देश्य

आर्थिक रूप से कमजोर होने के कारण काफी छात्राएं अपना अध्ययन जारी नहीं रख पाती हैं। इनकी संख्या राज्य में बहुत ज्यादा है। कुछ छात्रों के अभिभावक बेटा-बेटी के भेदभाव के कारण भी उनकी पढ़ाई पूरी नहीं करवाते। सरकार ने इस परेशानी को देखते हुए राजस्थान गार्गी पुरस्कार स्कीम शुरू की है। जिला शिक्षा अधिकारी मुख्यालय माध्यमिक शिक्षा प्रेम सिंह कुंतल ने बताया कि इस योजना का मुख्य लक्ष्य ये है कि राजस्थान की लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा मिल सके और उन्हें अध्ययन में रुचि के साथ अधिक अंक लाने की प्रेरणा मिल सके।

गार्गी पुरस्कार (प्रथम किस्त सत्र 2020-21)

 

योजना योजना वर्ष 1998 से प्रारम्भ की गई है। योजना अन्तर्गत माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान, अजमेर द्वारा आयोजित माध्यमिक एवं प्रवेशिका परीक्षा में 75% व इससे अधिक अंक प्राप्त करने वाली बालिकाओं को कक्षा 11 12 में नियमित अध्ययनरत् रहने पर प्रतिवर्ष राशि रु. 3000 एवं प्रमाण-पत्र देकर पुरस्कृत किया जाता है |

पुरस्कार हेतु राशि निदेशक, माध्यमिक शिक्षा राजस्थान, बीकानेर द्वारा उपलब्ध करवाई जाती है। पुरस्कार प्रत्येक जिला मुख्यालय एंव पंचायत समिति स्तर पर प्रतिवर्ष बसन्त पंचमी को समारोह आयोजित कर पुरस्कार वितरित किया जाता है।

स्वामी विवेकानन्द राजकीय मॉडल स्कूल की कक्षा 10वीं की परीक्षा में 8 से 10 सीजीपीए प्राप्त करने वाली बालिकाओं को भी पुरस्कार दिया जाता है।

आवेदन करे :-गार्गी पुरस्कार (प्रथम किस्त सत्र 2020-21)
 
गार्गी पुरस्कार (द्वितीय किस्त सत्र 2019-20) 

पुरस्पुरस्आवश्यक  दस्तावेज

  • छात्रा को राजस्थान की मूल/स्थायी निवासी होना आवश्यक है।
  • 10 और 12 वीं कक्षा में कम से कम 75% अंक या उससे अधिक नंबर होना जरूरी है।
  • किसी भी वर्ग की लड़कियां इस योजना का लाभ उठा सकती हैं।
  • मा .शि .बो से प्राप्त प्रमाण पत्र
  • विद्यार्थी का आधार कार्ड
  • जनाधार कार्ड
  • बैंक खाता विवरण आधार कार्ड से जुड़ा हुआ।
  • मोबाइल नंबर

उम्मीद है पोस्ट आपको पसंद आई हो तो पोस्ट like share और कमेंट जरुर करे और अपने मिलने वालो को अवश्य बताये !

उपर दी गई जानकारी मे अगर यदि आपका कोई भी विचार,सुझाव हो तो कमेंट बॉक्स में जरूर बताइए जिससे हम आपकी मदद कर सकें !

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और share जरूर करें ! इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद

अंक 

Post a Comment

ऑनलाइन गुरुजी ब्लॉग में आपका स्वागत है
ऑनलाइन गुरुजी,ब्लॉग में आप शैक्षिक सामग्री, पाठ्यपुस्तकों के समाधान के साथ पाठ्यपुस्तकों की पीडीएफ भी डाउनलोड कर सकते हैं। प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए शैक्षिक सामग्री भी यहाँ उपलब्ध कराई जा रही है। यह वेबसाइट अभी प्रगति पर है। भविष्य में और सामग्री जोड़ी जाएगी। कृपया वेबसाइट को नियमित रूप से देखते रहें!

Previous Post Next Post