UPI पेमेंट्स फ्रॉड, से इन आसान तरीकों से करे खुद को सुरक्षित!

UPI पेमेंट्स फ्रॉड, से इन आसान तरीकों से करे खुद को सुरक्षित!

क्या आप भी गूगल पे (Google Pay), पेटीएम (Paytm), फोनपे (PhonePe) जैसे UPI पेमेंट ऐप्स का उपयोग करते हैं? ये टूल हमारे लेनदेन के पैटर्न में सुविधा जरूर लाते हैं, लेकिन इनके कुछ नुकसान भी हैं. इनके बारे में आप सबको पता होना चाहिए. कुछ आसान स्टेप्स अपनाकर आप अपना पैसा सुरक्षित रख सकते हैं,

        जैसे कि रैंडम लिंक्स पर क्लिक न करना, फ्रॉड कॉल्स का जवाब न देना और जरूरी ट्रांजैक्शन डिटेल्स जैसे पिन नंबर, पासवर्ड किसी से शेयर न करना.

                          हम यहां आपको कुछ आसान स्टेप्स बताने वाले हैं, जिसकी मदद से आप यूपीआई ट्रांजैक्शन करते समय इन्हें सेफ रख सकते हैं. इन टिप्स को अपनाने के बाद आप किसी भी तरह के फ्रॉड (Banking Fraud) का शिकार होने से बच सकते हैं.

पिन किसी से भी शेयर ना करें

यह सबसे पहली और सबसे महत्वपूर्ण है. आपको कभी भी किसी के भी साथ अपना पिन शेयर नहीं करना चाहिए, फिर चाहे वह आपका दोस्त, पारिवारिक सदस्य या फिर हद से ज्यादा विश्वसनीय भी क्यों ना हो. जब आप किसी के भी साथ अपना पिन शेयर करते हैं तो फ्रॉड होने के चांस बढ़ जाते हैं. यदि आपको लगता है कि आपका पिन किसी को पता चल गया है, तो आपको इसे तुरंत बदल देना चाहिए.

मजबूत पासवर्ड का इस्तेमाल करें

हर इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस को आप एक स्ट्रांग पासवर्ड लगाकर सुरक्षित रख सकते हैं. आपको अपने हार्डवेयर पर तो लॉक रखना ही चाहिए साथ ही आपको पेमेंट ऐप्स को भी स्ट्रांग पासवर्ड से सुरक्षित करना चाहिए. आमतौर पर देखा गया है कि लोग बहुत आसान से पासवर्ड रखते हैं जैसे कि अपना नाम, डेट ऑफ बर्थ, मोबाइल नंबर इत्यादि. यह पासवर्ड बेहद कमजोर होते हैं और इन्हें बहुत आसानी से हैक किया जा सकता है. इसलिए आपको इस तरह के पासवर्ड रखने से परहेज करना चाहिए. आपका पासवर्ड हमेशा लेटर्स, नंबर्स, स्पेशल करैक्टर्स का एक कंबीनेशन होना चाहिए.

अनवेरीफाइड लिंक पर क्लिक ना करें

हमारे पास  अक्सर अनवेरीफाइड अकाउंट या फोन नंबर से मैसेज आते हैं. इन मैसेजेस में कई ऐसे लिंक होते हैं, जिन पर क्लिक करने के लिए आपको ललचाया जाता है. जरूर नहीं किए एक s.m.s. ही हो, आपको कोई मेल भी आ सकती है. तो आपको सिर्फ एक काम करना है इग्नोर. इग्नोर कीजिए और डिलीट कर दीजिए. इस तरह के लिंक्स पर क्लिक करने वाले लोग ठगी का शिकार होते हैं, और हम आए दिन ऐसी खबरें देख-पढ़ सकते हैं.

ट्रस्टेड और वेरीफाइड पेमेंट ऐप्स ही रखें

हालांकि एक्सपर्ट तो यह भी कहते हैं कि अपनी ट्रांजैक्शन को बेहद सिंपल रखना चाहिए. मतलब यह कि ज्यादा पेमेंट ऐप्स न रखकर केवल एक ही पेमेंट ऐप रखनी चाहिए. आप जो भी पेमेंट ऐप अपने मोबाइल फोन में रखें वह ट्रस्टेड और वेरीफाइड होनी चाहिए. फोन पे, गूगल पे, पेटीएम इत्यादी ट्रस्टेड ऐप्स में से हैं.

इसी प्रकार की रोचक जानकारी के लिए आप हमारे ब्लॉग को follow जरुर कर ले ताकि नई जानकारी आपको मिलती रहे !

थैंक्स ................................

 


Post a Comment

ऑनलाइन गुरुजी ब्लॉग में आपका स्वागत है
ऑनलाइन गुरुजी,ब्लॉग में आप शैक्षिक सामग्री, पाठ्यपुस्तकों के समाधान के साथ पाठ्यपुस्तकों की पीडीएफ भी डाउनलोड कर सकते हैं। प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए शैक्षिक सामग्री भी यहाँ उपलब्ध कराई जा रही है। यह वेबसाइट अभी प्रगति पर है। भविष्य में और सामग्री जोड़ी जाएगी। कृपया वेबसाइट को नियमित रूप से देखते रहें!

Previous Post Next Post