Showing posts from November, 2019Show all

देवनारायण योजना

देवनारायण योजना देवनारायण योजना लाभार्थी :  1. बंजारा, बालदिया, लबाना  2. गाड़िया लोहार, गदोलियाँ ,  3. गुजर, गुर्जर  4. राईका, रैबारी, देवासी, देबासी       देवनारायण योजनान्तर्गत विशेष पिछड़े वर्ग के कल्याण हेतु राज्य सरकार द्वारा संचालित योजना  • विशे… Read more

गुर्जरात्रा, गुर्जरदेश -

गुर्जरात्रा , गुर्जरदेश - गुर्जरात्रा, गुर्जरदेश गुजरात शब्द सस्कृत के शब्द गुजरात्रा अथवा प्राकृत के गुजराता से निकला हे जिसका अर्थ है गुर्जरो का दैश अथवा गुर्जरो दवारा रक्षित क्षेत्र । गुजरात     ( काठियावाड - भारत )   ,  गुजरात ,   … Read more

गुर्जर तथा गुर्जरात्रा

गुर्जर तथा गुर्जरात्रा पुराने वंशो से नए नाम के साथ नई नई जातियाँ और कबीले बन जाते हैं।   इक्ष्वाकु   ,  पुरू व यदु कुल के उच्च श्रेणी के क्षत्रिय रक्त व साहसिक कार्यों के आधार पर संगठित हो गए तथा गुर्जर नाम से प्रसिद्ध   हुए।   उस समय गुर्जरो के आधीन क… Read more

गुर्जर प्रतिहार साम्राज्य और गुर्जर सम्राट उसके अधीन आने वाले प्रमुख वंश

गुर्जर प्रतिहार साम्राज्य और गुर्जर सम्राट उसके अधीन आने वाले प्रमुख वंश गुर्जर प्रतिहार साम्राज्य और गुर्जर सम्राट उसके अधीन आने वाले प्रमुख वंश गुर्जर प्रतिहार राजवंश ( 650-1036 ई०) 1.     नागभट्ट गुर्जर सम्राट     2 ककुष्ठा और देवराज गु… Read more

बगड़ावत देवनारायण फड़ भाग 5

5 भगवान विष्णु ब्राह्मण के वेश में भगवान विष्णु बगड़ावतों को श्राप देने के लिये देव लोक से पृथ्वी पर साधु का वेश धारण कर बगड़वतों के गांव गोठां में प्रकट होते हैं। साडू माता अपने महल में पूर्ण नग्न अवस्था में स्नान कर रही होती है और सभी बगड़ावत गायें चराने हेतु जंग… Read more

बगड़ावत देवनारायण फड़ भाग 4

4 बगड़ावत और रावजी नौलखा बाग में नियाजी से मिलकर नीमदेवजी वापिस रावजी के पास जाकर कहते हैं कि वे तो बाघ जी के बेटे बगड़ावत हैं। रावजी कहते हैं कि फिर तो वे अपने ही भाई है ।    रावजी सवाई भोज के पास आकर उनको अपना धर्म भाई बना लेते हैं। और उन्हें बड़े आदर के साथ नौल… Read more

बगड़ावत देवनारायण फड़ भाग 3

नौलखा बाग में बगड़ावत एक बार सवाई भोज अपने भाइयों के साथ अपने राजा ( रावजी ) से मिलने जाने की योजना बनाते हैं। अपने सभी घोड़ो कोसोने के जेवर पहनाते हैं। साडू माता नियाजी से पूछती है कि इतनी रात को कहाँ जाने की तैयारी है। नियाजी उन्हें अपनी योजना के बार… Read more

गुर्जर समाज – संक्षिप्त इतिहास

गुर्जर समाज – संक्षिप्त इतिहास गुर्जर समाज – संक्षिप्त इतिहास गुर्जर समाज , प्राचीन एवं प्रतिष्ठित समाज में से एक है। यह समुदाय   गुज्जर , गूजर , गोजर , गुर्जर , गूर्जर   और   वीर गुर्जर   नाम से भी जाना जाता है।   मुख्यत: गुर्जर उत्तर भारत , पाकि… Read more