अपने काम को बोझ मानकर करेंगे तो कभी भी सुख-शांति नहीं मिलेगी , जिम्मेदारियां प्रसन्न होकर निभाएं एक राज्य में अकाल पड़ा तो राजा चिंतित हो गया , अकाल के बाद हालात सामान्य हुए तो शत्रुओं की चिंता बढ़ने लगी , परेशान राजा को अपने एक सुखी सेवक से जलता था एक राजा के राज्य … Read more